3.jpg

BLM ट्रांसपोर्ट की शुरुआत 2001 में सेठ धर्मपाल मित्तल के द्वारा हुई थी

BLM Transport was started in 2001 by Seth Dharpal Mittal.

 

सेठ धर्मपाल मित्तल ने 2001 में एक लोजिस्टिक्स फर्म खोली थी जिसमे उनके पास एक टाटा 407 था

2001 Gurugram, in which Seth Dharpal Mittal opened a logistics firm name BLM Transport he had a Tata 407.

 

उन्होंने और उनकी टीम ने कड़ी से कड़ी मेहनत की जिसमें एक साल में ही सेठ धर्मपाल मित्तल ने 4 ट्रक अपने खुद के बना लिए और अच्छा व्यपार करने लगे

He and his team worked very hard then Seth Dharpal Mittal owned 4 trucks and started doing good business in a year.

 

2002 में सेठ धर्मपाल मित्तल ने 6 ट्रक ओर ख़रीदे और 20 कर्मचारी को नियुक्ति की

Seth Dharpal Mittal purchased 6 more trucks and appointed 20 employees in 2002

 

2004 में सेठ धर्मपाल मित्तल ने 2004 में एक वेअरहाउस लिया जिसमे रोजाना के 4000 पार्सल पर दिन डेलिवरी करने के लिए आते थे

In 2004, Seth Dharpal Mittal took a warehouse, in which 4000 parcels used to come for delivery per day 2006

 

2006 में सेठ धर्मपाल मित्तल ने 18 वेयरहाउस नए बनाये

In 2006 Seth Dharpal Mittal owned 18 new warehouses in India

2007 में सेठ धर्मपाल मित्तल ने 27 नये खुद के टुक ख़रीदे और उन सभी ट्रक को राणा स्टील कंपनी में लगाए

In 2007, Seth Dharpal Mittal bought 27 new trucks and gave all those trucks to Rana Steel Company to work .

 

2010 में सेठ धर्मपाल मित्तल ने दिल्ली से मुंबई जाने के लिए 10 ट्रक और खरीदे जिससे उनका कार्य और भी बड़ा हो गया

In 2010 , Seth Dharpal Mittal bought more 10 trucks to travel from Delhi to Mumbai , whereby his work grew even more

 

2012 में सेठ धर्मपाल मित्तल के पास 1200+ से ज्यादा कर्मचारी थे जिनको वो बोनस भी दिया करते थे

In 2012, Seth Dharpal Mittal had more than 1200+ employees, who he used to give those bonuses as well .

 

2014 में धर्मपाल मित्तल ने 400 नयी कम्पनियों के साथ बिज़नेस करने लगे

Seth Dharpal Mittal started business with 400 new companies in 2014

 

2015 में सेठ धर्मपाल मित्तल ने ईकॉमर्स कम्पनी के पार्सल डिलीवरी करना शुरू किया

In 2015, Seth Dharpal Mittal started delivering parcel of e - commerce company

 

2016 में धर्मपाल मित्तल ने पुरे भारत और पुरे एशिया में पैकेट और पार्सल की डिलीवरी करना शुरू किया

In 2016, Dharpal Mittal started delivering packets and parcels across India and throughout Asia,

उन्होंने अपने पास 17000 कर्मचारी रक्खे और 300+ ईकॉमर्स कम्पनियों के साथ बिज़नेस करने लगे और उन को अच्छी से अच्छी सर्विस देने लगे ।

he started working with 17,000 employees and 300+ e - commerce companies and started offering them a good service.

 

इसके साथ उन्होंने इंडिया में 1000+ से भी ज्यादा डिलीवरी पार्टनर जोड़े और उन सबने मिलकर 2016 में 10 लाख पार्सल को टाइमली और सेफली डेलिवरी करवाया

With this , he added more than 1000+ delivery partners in India and all of them together delivered 10 lakh parcels timely and safely,

 

2017 में धर्मपाल मित्तल ने नई कम्पनी लॉन्च की है जिसका नाम Just Delivery कॉर्पोरेशन है

In 2017 , Dharpal Mittal has launched a new company called JUST DELIVERY Corporation

 

सेठ धर्मपाल मित्तल जी का विजन है इंडिया में यदि कोई भी कंपनी या व्यक्ति इंडिया में पैकेट या पार्सल डिलीवरी करवाना चाहता है तो वह हमारे कंपनी से ही डिलीवरी करवाए

Seth Dharpal Mittalji’s vision is if any company or person in India who wants to deliver packets or

 

हमारी कंपनी आज की तारिक में रेल कार्गो एयर कार्गो और रोड कार्गो ईकॉमर्स की डिलीवरी का कार्य करती है

Now Our company serves the delivery of Rail Cargo , Air Cargo and Road Cargo Ecommerce in the word.

 

कंपनी को अपने पार्सल की डेलिवरी करने के लिए पुरे भारत में डिलीवरी पार्टनर चाहिए

company needs delivery partner in India to deliver its parcel

डेलिवरी पार्टनर के कार्य

Work of delivery partner

डेलिवरी पार्टनर वह होता है जो कंपनी से डेलिवरी एजेसी ले लेता है और वह अपने एरिया में पैकेट और पार्सल की डेलिवरी करता है वह कोई भी व्यक्ति हो सकता है

The delivery partner is that partner who takes the delivery agency from company and delivers packets and parcels in his area . That person can be anyone,

डेलिवरी पार्टनर अपने घर से ही कार्य शुरू कर सकता है

Delivery partner can start work from his home as well

 

डेलिवरी पार्टनर को अपने एरिया में सभी पकेट एंड पार्सल सही टाइम पर डेलिवरी करने होते है

Delivery partner has to deliver all the packets and parcels in his area at the right time.

 

 

डेलिवरी पार्टनर को एक या एक से अधिक डिलीवरी बॉय रखने होते है

Delivery partner has to have one or more delivery boy.

 

डेलिवरी पार्टनर को अपने घर में एक कंप्यूटर, बारकोड, स्केनर, प्रिंटर, इंटरनेट रखना होता है Delivery partner has to keep a computer, barcode, scanner, printer , internet in his home.

डेलिवरी पार्टनर को प्रॉफिट

Profit to the delivery partner

पुरे वर्ल्ड से इंडिया में 10 करोड़ पैकेट एंड पार्सल रोजाना डिलीवरी के लिए आते है जिसमे हमरी कंपनी 10 % पैकेट एंड पार्सत डिलीवरी करती है कंपनी को इंडिया में अपना बिज़नेस बढ़ने के लिए ज्यादा से ज्यादा बिज़नेस पार्टनर चाहिए

Over 100 million packets and parcels arrives from India for the day - to - day delivery in the whole world, in which our company delivers 10 % packet and parcel company needs more and more business partners to grow its business in India.

कंपनी आप को चार प्रकार के प्रॉफिट देती है

The company gives you four types of profits

 

हमारी कंपनी का टाईअप बैंकिंग , इन्शुरन्स , इंस्टीटूट और मोबाईल कम्पनियो से है जिसमे हमारी कंपनी को रोजान इंडिया में 70 लाख पैकेट डिलीवरी कराने को मिलते है ये कम्पनी हमारी कंपनी को 100 ग्राम से निचे के पैकेट डिलीवरी करने को देती है

Our company has a tie - up with banking, insurance, institutes and mobile companies in which our company gets 70 lakh packets in daily India . These companies allows our company to deliver packets below 100 grams

पार्सलकी डिलीवरी

Delivery of parcel

इंडिया में बहुत सारी कंपनी और कस्टमर है जो की हमें पार्सल की 10 किलो से ऊपर के पार्सल की डेलिवरी के लिए देते है हम इंडिया में 90 करोड़ पार्सल हर साल डिलीवरी करते है

There are a lot of companies and customers in India who give us parcel delivery for more than 10 kg of parcel, we deliver 90 million parcels every year in India

 

आपको पर पैकेट और की डिलीवरी करने पर अलग अलग मार्जन देती है

The company gives different margins on delivery of packets and parcels to you, like

 

जैसे यदि आपकोई भी 500 ग्राम से कम पैकेट की डिलीवरी करते हो तो कंपनी आप को पर पकेट 6 रूपये का मार्जन देती है

If you deliver less than 500 grams of packets, then the company gives you a profit of 6 rupees per packet.

 

यदि आप दिन में 10000 पैकेट की डेलिवरी करते हो तो आपको एक दिन में 60000 का मार्जन होगा

If you deliver 10000 packets a day, you will have a margin of 60000 in a day.

 

यदि आप किसी 4 किलो से ऊपर के पार्सल की डिलीवरी करते हो तो कंपनी आपको 10 रूपये पर किलो का मार्जन देती है

If you deliver a parcel above 4 kg , then the company gives you a profit of Rs 10 per kg .

 

जैसे यदि कंपनी आप के पास 50 किलो का पार्सल डिलीवरी करने को देती है और आप उस पार्सल को टाइमली और सेफली डिलीवरी करा देता हो तो कंपनी आपको 50x10 = 500 रूपये मिलते है

 

For example - if the company gives you to deliver a 50 - kilo parcel for delivery and if you deliver that parcel timely and the safely , then you get 50x10 = 500 rupees .

 

ऐसे ही यदि आप दिन में 100 पार्सल की डिलीवरी करते हो जो की 50-50 किलो के होते है तो आप के सो गुना 10 = पांच हजार किलो मॉल बन जाता है और कंपनी आप को एक किलो की डिलीवरी करने का मार्जन 10 रूपये का देती है

Similarly , if you deliver 100 parcels in a day , which weigh 50kg , then your profit will be 100x50 = Rs. 5000 and the company gives you a margin of 10 rupees for delivery of one kilo.

 

तो आप का एक दिन का मार्जन 5000x10 = 50000 बन जाता है

So your profit for a day is 5000x5-50000,

 

यानिकी आप पार्सल की डिलीवरी करने पर एक दिन में बिस हजार कमाओगे

That means , you will gain 50000 per day for the delivery of packets .

ईकॉमर्स की डेलिवरी करने पर प्रॉफिट

Profit on Delivery of Ecommerce

Packet की डेलिवरी

Packet delivery

ईकॉमर्स के बिजनेस में एशिया के अंदर हमारी कमपनी का नाम अच्छा खासा है

The name of our company is very good within Asia in ecommerce business

 

वर्ल्ड की जीतनी भी ईकॉमर्स कम्पनियों है वे सभी कम्पनियाँ एशिया में अपना माल हमारी कंपनी के द्वारा डिलीवरी कराती है हर साल हमारी कंपनी 650+ लाख ईकॉमर्स के पार्सल डिलीवरी कराती है All the ecommerce companies in the world deliver their goods in Asia by our company every year , our company delivers 650+ parcel of ecommerce company annually.

कंपनी आप को आप के एरिया के सभी ईकॉमर्स कंपनी के पार्सल आप के पास डिलीवरी करने के लिए भेजती है कंपनी आपको एक पार्सल की डिलीवरी करने के लिए 100 रूपये से लेकर पांच हजार रूपये का मार्जन देती है

The company sends you the parcel of all the ecommerce company in your area for delivery. The company gives you a monthly payment of 100 rupees to 5 thousand rupees for the delivery of a parcel.

मार्जिन ईकॉमर्स के पार्सल के ऊपर डिपेंड करता ।

Profit Depends on the Parcel of Ecommerce

 

जैसे यदि किसी पार्सल का वजन एक किलो से निचे होता है और आप उस पार्सल को डेलिवरी करते हो तो आपको उस पार्सल के ऊपर 100 रूपये का मार्जन मिलता है

For example - if a parcel weight is less than one kilo and you deliver that parcel , you get a margin of Rs 100 on that parcel,

 

यदि आपके पास रोजाना 100 पार्सल एक किलो से निचे के पार्सल डिलीवरी होने के लिए आते है तो आप का मार्जिन 100x100 = 10000 हजार बन जाता है एक दिन का

If you get parcel delivery below 100 PCS a kilo daily , then Your margin for one day becomes 100 x 100 = 10000 ,

 

यदि 1 किलो से 10 किलो तक के पार्सल की डिलीवरी करते हो तो कंपनी 50 रूपये किलो का मार्जिन देती है

If you deliver the parcel of 1 kg to 10kg. then the company gives a profit of 50 rupees.

 

यदि आपके पास रोजाना 100 पार्सल एक किलो से निचे के पार्सल डिलीवरी होने के लिए आते है तो आप का मार्जिन 100x50 = 5000 हजार बन जाता है एक दिन का

If you get parcel delivery below 100 PCS a kilo daily, then Your margin for one day becomes 100x50-5000